Pandit Hindi Jokes : 1447

1447 Pandit
एक पापी आदमी मरने के बाद नर्क में गया।
कुछ सालों बाद उसके गांव के ही पंडितजी उसे नर्क में मिल गये।
उस पापी आदमी को बड़ा आश्चर्य हुआ कि सारा गांव जिन पंडितजी की
धार्मिकता, सच्चाई की रस्में खाता था, उन्हें तो स्वर्ग में जाना चाहिए था।
उसने हैरान होकर पंडितजी से पूंछ ही लिया -

पापी : आप यहाँ कैसे आये.?
पंडितजी : झूठ बोलने के कारण।
पापी : क्या मतलब..?
पंडितजी : मैंने मेरी पूरी ज़िन्दगी में कभी झूठ नहीं बोला,
बस बीवी से झूठ बोलना पड़ता था।
पापी : मैं कुछ समझा नहीं।
पंडितजी : वो रोज़ सुबह तैयार होकर मुझसे पूँछती,
"मैं कैसी लग रही हूँ जी..?" gringrintongue