Teacher Student Jokes in Hindi

टीचर : कौन सी तरल चीज गरम करने पर कठोर हो जाती है..?
पिंटू : बेसन के पकोड़े gringringrin
शिक्षक ने क्लास में लड़के की कॉपी जांचते हुए उससे कहा -
"मुझे आश्चर्य होता है कि तुम अकेले इतनी सारी ग़लतियाँ करते हो"

लड़के ने खड़े होकर कहा - ये सब ग़लतियाँ मैंने अकेले नहीं की हैं,
मेरे पिता जी ने भी इसमें मुझे मदद दी है। gringringrin
अध्यापक - तुम कैसे सिद्ध करोगे की साग-पात खाने वाले की निगाहें तेज होती हैं।

छात्र - सर, आज तक किसी ने बकरे या घोड़े को चश्मा लगाते देखा है क्या..? gringringrin
अध्यापक - शाबाश दीपक, मुझे खुशी है कि तुमने इतने अच्छे अंक लिए। आगे भी ऐसे ही अच्छे अंक लेना।

दीपक - अच्छा सर, पर आप भी परचे भाई साहब के प्रेस में छपवाते रहिएगा। gringringrin
अध्यापक ने छात्र से पूंछा - बताओ बच्चों.. दिन में तारे किस समय दिखाई देते हैं..?

एक छात्र ने उत्तर दिया - जब तमाचे पड़ते हैं। gringringrin
अध्यापक ने बच्चों से कहा - बच्चों 2030 में कयामत आएगी। दुनिया तबाह हो जाएगी.. सब कुछ तबाह हो
जाएगा।
.
.
एक बच्चा बोला - सर.. क्या उस दिन हमारे स्कूल की छूट्टी रहेगी..? gringringrin
अध्यापक ने छात्र से पूछा - तुम्हारे पिताजी का क्या नाम है..?

छात्र ने उत्तर दिया - बेटा मलखान सिंह।

अध्यापक - क्या वह तुम्हारे बेटे हैं..?

छात्र - नहीं, दादी उन्हें इसी प्रकार कहकर बुलाती हैं। gringringrin
अध्यापक ने पिंटू से कहा - पिंटू.. सोना अधिक कहाँ होता है..?

पिंटू ने कहा - जी..! जहाँ रातें अधिक लंबी होती हैं, वहीं सोना अधिक होता है। gringringrin
अध्यापक - रामू गंगा नदी कहाँ है।

रामू - सर..! जमीन पर..

अध्यापक(हंसकर)  -  नक्शे में बताओ कहाँ है।

रामू - सर..? नक्शे में कहाँ हो सकती है, नक्शा तो गल जाएगा। gringringrin
अध्यापक ने छात्रों से कहा - जो छात्र स्वर्ग में जाने की इच्छा रखता है, वो हाथ ऊपर उठाए।

सभी छात्रों ने हाथ उठा दिए मगर सुरेश ने हाथ ऊपर नहीं उठाए।

अध्यापक - सुरेश.. क्या तुम स्वर्ग में नहीं जाना चाहते.?

सुरेश - नहीं मास्टर जी।

अध्यापक - क्यों..?

सुरेश - क्योंकि मेरी माँ ने कहा था कि स्कूल से सीधे घर आना, वरना हाथ-पैर तोड़ दूंगी। gringringrin